खेल समझने की जरूरत है। वैसे भी अच्छे दिन चल रहे हैं। नामुमकिन मुमकिन है। एनडीटीवी से प्रणय राय और राधिका राय बेदखल हो गए। भलमनसाहत में, अंग्रेजियत की नफासत के साथ दून स्कूल शैली में लिखी विज्ञप्ति के आधार पर कुछ लोग कह और बता रहे हैं कि सब ठीक ठाक है या था। उनका था उनने बेच दिया। माल कमाया, पैसे मिल गए आदि आदि। इस आधार पर कुछ लोग समझ और समझा रहे हैं कि कब्जे का सारा हल्ला यूं ही था।

samarth yojana

शेयर मार्केट में कौन से वित्तीय साधनों का कारोबार होता है?

  • Connect@ Money9.com
  • Updated On - July 28, 2022 / 02:09 PM IST

शेयर मार्केट में कौन से वित्तीय साधनों का कारोबार होता है?

शेयर मार्केट केवल शेयरों तक ही सीमित नहीं है इसमें कई और फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट भी शामिल हैं. ये इंस्ट्रूमेंट एक बड़ा रिटर्न भी देते हैं. निवेशक अपना पैसा शेयर मार्केट में लगाकर ज्यादा पैसा बनाते हैं. कुछ निवेशक लंबी अवधि के लिए और कुछ छोटी अवधि के लिए पैसा लगाते हैं. आमतौर पर लोगों को लगता हैं कि शेयर मार्केट में सिर्फ शेयरों का ही कारोबार होता है लेकिन ऐसा नहीं है. शेयरों के अलावा और भी कई फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट (वित्तीय शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं साधन) हैं, जिनका शेयर मार्केट में कारोबार होता है. इस लेख में हम उनके बारे में बात शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं करेंगे.

आइए समझें टैक्स सेविंग वाले म्यूचुअल फंड का निवेश क्यों है सबसे फायदेमंद

आइए समझें टैक्स सेविंग वाले म्यूचुअल फंड का निवेश क्यों है सबसे फायदेमंद

म्यूचुअल फंड निवेश का अच्छा विकल्प.

म्यूचुअल फंड में निवेश आज की तारीख में सबसे बेहतर निवेश माना जा रहा है. कारण सिर्फ यह है कि अगर कोई भी नौकरीपेशा या बिजनेसमैन यह चाहता है कि वह अपने काम के साथ अपने पैसे को बढ़ाना चाहता है और उस पर ज्यादा सोच विचार का समय नहीं है तब म्यूचुअल फंड का निवेश उसके सामने एक अच्छा विकल्प है. साथ ही ऐसे निवेशकों के लिए यह सबसे उपयोगी जो बाजार के उतार-चढ़ाव को तो समझते हैं मगर उससे सीधे जुड़े नहीं रह पाते हैं. नौकरी या बिजनेस उन्हें इतना वक्त नहीं देता कि वे बाजार की चाल के साथ निवेश कर सकें और अपना पैसा सही समय में निकाल सकें. ऐसे लोगों के लिए म्यूचुअल फंड शानदार मौका उपलब्ध कराता है जिससे वे अपने पैसे का ज्यादा रिटर्न ले सकें.

यह भी पढ़ें

म्यूचुअल फंड में एक फंड टैक्स सेविंग फंड भी होता है जिसे आम तौर पर ELSS (Equity Link Saving scheme) कहते हैं. चूंकि यह एक टैक्स सेविंग स्कीम है तो इसके साथ कुछ पाबंदियां भी आती हैं. यानि इस योजना में कुछ लॉकिन इन समय है. इससे साफ है कि इस दौरान आप निवेश की गई राशि को निकाल नहीं सकते हैं. अमूमन यह लॉकइन समय कम से कम तीन साल का होता है.

ELSS ईएलएसएस ऐसे म्यूचुअल फंड होते हैं, जिनका सर्वाधिक भाग (65% से अधिक) शेयरों (equity) में और इक्विटी लिंक्ड सिक्योरिटीज में निवेश कि जाता है. साथ ही इसका एक हिस्सा फिक्स्ड इंकम प्रतिभूति (fixed-income securities) आदि में भी लगाया जाता है.

चूंकि इनमें निवेश लॉकइन समय के साथ आता है. तो सरकार की ओर से आयकर की धारा 80 सी के तहत टैक्स में छूट का लाभ लिया जा सकता है. यह साफ करना भी जरूरी है कि इस सेक्शन के तहत केवल 150000 रुपये सालाना ही टैक्स में छूट का दायरा है. क्योंकि यहां पर टैक्स में छूट के साथ कमाई भी हो रही है तभी इसे टैक्स सेविंग स्कीम भी कहा जा रहा है.
जानकारी के लिए बता दें कि शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं आयकर के सेक्शन 80 सी के तहत कुछ अन्य निवेश और खर्च भी आते हैं. इनमें EPF, PPF, NSC, सीनियर सिटिजन सेविंग स्कीम, सुकन्या समृद्धि योजना, जीवन बीमा आदि भी सम्मिलित हैं. टैक्स की लिमिट में इन सभी को शामिल किया जाता है.

एनडीटीवी वाले रॉय दंपति को बेचने के लिए घेर लिया गया था!

जब बेचने के लिए घेर लिया जाए… रॉय दंपति ने जो किया उसके बारे में निर्णय लेना बहुत आसान है, कुप्रबंधन के लिए उन्हें दोष देना, अपनी आत्मा बेचने की बात करना, हमें धोखा देना आदि आदि। हम में से कोई भी हॉट सीट पर नहीं बैठा था। वे शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं हमलों का सामना कर रहे थे। उन्हें घेर लिया गया था। वे बंधक जैसी स्थिति में थे। वे तब तक डटे रहे जब तक डटे रह सकते थे। वे तब तक लड़े जब तक लड़ सकते थे। एक अल्पसंख्यक शेयरधारक तब तक कुछ नहीं कर सकता जब तक कि आप ज़ी के सुभाष चंद्रा नहीं हैं और प्रतिष्ठान आपका समर्थन करता है। दुर्भाग्य से, रॉय दंपति एनडीटीवी थे।

उनके मन को समझने के लिए आपको एक उद्यमी होने की जरूरत है। जब आप जीवन के 35 साल, पसीना और पैसा एक ऐसा भव्य और विशाल मंच बनाने के लिए निवेश करते हैं जो समाज को प्रभावित करता है, उसपर असर डालता है और समाज की मदद करता है, तो यह सब त्याग देने का दर्द एक परिवार में मृत्यु की तरह है। बेशक, उनकी कुछ गलतियां थीं। पर वे वर्षों संघर्ष में रहे। उनने हर नियामक, टैक्स वालों और अधिकारों का सामना किया। वे अदालतों, पुलिस थानों, पंचाट और न्यायिक मंचों पर उन कारणों से थे जो वाजिब नहीं हैं। एक समय उन्हें हारना पड़ा। उनका अपना बोर्ड उनके खिलाफ था। वे अब अल्पसंख्यक हैं। और भारत में हम सब अल्पसंख्यकों की किस्मत जानते हैं !!

कपड़ा क्षेत्र के लिए समर्थ योजना की विशेषताएं क्या है?

ये हैं समर्थ योजना की विशेषताएं

  • 18 राज्यों में समर्थ योजना संचालित है।
  • यह योजना कम से कम 80% आकलन के साथ शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं आधार सक्षम बायोमेट्रिक उपस्थिति प्रणाली पर आधारित होगी।
  • यह योजना आरएसए/एसएससी द्वारा प्रशिक्षकों के प्रशिक्षण (टीओटी) के रूप में प्रमाणित किए गए लोगों से प्रशिक्षुओं के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण प्रदान करेगी।
  • इस योजना ने शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं एक प्लेसमेंट-लिंक्ड अपस्किलिंग प्रोग्राम शुरू किया, जिसमें पारंपरिक (50%) या संगठित (70%) दोनों में मजदूरी रोजगार शामिल है। यह एक साल तक प्लेसमेंट के बाद ट्रैक करना जारी रखेगा।
  • समर्थ योजना 1,300 करोड़ रुपये की लागत से अपने कार्यों को जारी रखेगी।
  • इस प्रणाली में प्रशिक्षण कार्यक्रमों की सीसीटीवी रिकॉर्डिंग शामिल होगी जहां संघर्षों को आसानी से सुलझाया जा सकता है।
  • समर्थ को वेब आधारित प्रबंधन सूचना प्रणाली (एमआईएस) शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं के तहत लागू किया जाएगा, जो पूरी कार्यान्वयन प्रक्रिया को ट्रैक करेगा।
  • समर्थ योजना एक हेल्पलाइन नंबर के साथ एक समर्पित कॉल सेंटर और प्रशिक्षण प्रक्रिया की ऑनलाइन निगरानी जैसी उन्नत सुविधाएँ भी प्रदान करती है।

समर्थ योजना के लिए कौन पात्र है

समर्थ योजना की पात्रता केवल भारतीय निवासियों के लिए है।

नोट: अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति और महिलाओं, अल्पसंख्यकों, विकलांग लोगों, बीपीएल श्रेणी के व्यक्तियों और 115 आकांक्षी जिलों (जो नीति आयोग के माध्यम से अधिसूचित हैं) को प्राथमिकता दी गई है।

मैं समर्थ योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करूं?

यदि आप समर्थ योजना के लिए आवेदन करने में रुचि रखते हैं, तो शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं कृपया इन चरणों का पालन करें।

  • चरण 1 समर्थ आधिकारिक वेबसाइट पर जाएं ।
  • चरण 2 व्यक्तियों को उनके होम पेज के दाईं ओर ‘उम्मीदवार पंजीकरण’ मेनू मिलेगा।
  • चरण 3 ‘उम्मीदवार पूछताछ फॉर्म’ भरें, और फिर अपना ऑनलाइन आवेदन जमा करने के लिए ‘सबमिट’ बटन पर क्लिक करें।

व्यक्तियों को समर्थ योजना की मूल बातों को समझने में सक्षम होना चाहिए और इसके कार्यान्वयन के लिए कौन सी एजेंसियां ​​जिम्मेदार हैं। आइए और जानें!

Google Pay से पैसे कमाने के 2 सबसे आसान तरीके जिनसे आप घर बैठे रोजाना 500 से 2000 रुपये कमा सकते हैं | google pay se paise kaise kamaye

google-pay-se-paise-kaise-kamaye

google-pay-se-paise-kaise-kamaye

google pay se paise kaise kamaye: जैसा कि आप सभी जानते हैं कि आज दुनिया में सभी छोटे से लेकर बड़े काम ऑनलाइन होने लगे हैं, गूगल वॉलेट ऐप (google wallet app) जिससे आप बिना किसी रूकावट के कभी भी एक जगह से दूसरी जगह पैसे ट्रांसफर कर सकते हैं। इंटरनेट पर ऐसे कई ऐप हैं जिनके जरिए ऑनलाइन ट्रांजैक्शन किया जा सकता है। google pay app se paise kaise kamaye

अगर आप भी ऑनलाइन जल्दी पैसे कमाने के तरीके ढूंढ रहे हैं तो यह पोस्ट आपके लिए काफी फायदेमंद साबित होगी। हम आपको Google Pay ऐप डाउनलोड करके रोजाना 500 से 2000 रुपए कमाने के दो आसान तरीके बताने जा रहे हैं। ऐसे गूगल पे खाता (google pay account) बहुत से लोग हैं जो Google Pay App (G Pay) के जरिए पैसा कमा रहे हैं, लेकिन जिन्हें इसकी जानकारी नहीं है, वे हमारी इस पोस्ट के जरिए पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं। google pay se paise kaise kamaye

Google पे ऐप (जी पे) क्या है? (What is Google Pay App (G Pay)?)

Google Ka एक ऑनलाइन ट्रांजैक्शन प्लेटफॉर्म है जिसके जरिए सभी ऑनलाइन काम संभव है। जैसे मोबाइल रिचार्ज, मनी ट्रांसफर, बिजली बिल भुगतान, डीटीएच रिचार्ज, ऑनलाइन शॉपिंग आदि। यह Google का एक उत्पाद है इसलिए यह पूरी तरह से सुरक्षित है। बहुत से शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं लोग इसका इस्तेमाल कर रहे हैं और घर बैठे पैसे कमा रहे हैं | google pay se paise kaise kamaye

अपने मोबाइल फोन में Google Pay ऐप डाउनलोड करने के लिए सबसे पहले आपको अपने मोबाइल शेयरों क्या हैं और वे कैसे कमाते हैं में Play Store ऐप को ओपन करना होगा।

  • You will see a search option, search for Google Pay App (G Pay).
  • After this install Google Pay app in your mobile.
  • Google Pay App (G Pay) will be installed in your mobile soon
  • 2 Easy Ways to Earn Money with Google Pay App
  • Google Pay App (G Pay) Referral Code|
  • Google Pay App Cashback Offer -G Pay Scratch Card|
  • Google Pay Scratch Card Free, Google Pay Scratch Card

Google Pay App(G Pay) रेफरल कोड से पैसे कैसे कमाए? (How to earn money with Google Pay App(G Pay) referral code?)

सबसे पहले हम बात करते हैं Google Pay App से पैसे कमाने के पहले तरीके की, अगर आप Google Pay App का लिंक अपने दोस्तों और दूसरे पार्टनर को अपने फोन के जरिए शेयर करते हैं तो आपको Google Pay App की शर्तों के मुताबिक 201 रुपये का कैशबैक मिलेगा। रुपये का दिया जाएगा। आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यह कैशबैक आपको तब मिलेगा जब यूजर आपके द्वारा भेजे गए लिंक से गूगल पे ऐप डाउनलोड करेगा और उस ऐप के जरिए पैसे का लेन-देन करेगा | google pay se recharge karke paise kaise kamaye

इस तरह हर कोई Google Pay से घर बैठे पैसा कमा रहा है। गूगल पर आपको किसी भी ट्रांजैक्शन (transaction) पर भारी कैशबैक (Cashback) मिलता है। यदि आप बिजली बिल (electricity bill), पानी बिल, डीटीएच केबल टीवी रिचार्ज, मोबाइल रिचार्ज, ब्रॉडबैंड फाइबर रिचार्ज, गैस सिलेंडर बुकिंग (Gas cylinder booking) र ऑनलाइन भुगतान करते हैं, तो जीपे(gp) का उपयोग करने पर आपको अच्छा कैशबैक मिलता है। इसके अलावा अभी गूगल पर और भी कई ऑफर्स हैं। जिसमें आपको काफी फायदा मिलता है। Google Pay ऐप डाउनलोड करने का सीधा लिंक नीचे दिया गया है | google pay se paise kaise kamaye

रेटिंग: 4.60
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 528